लखनऊ, वाराणसी, कानपुर,प्रयागराज में नाइट कर्फ़्यू, जानिए कब से होगी सख्ती

लखनऊ, वाराणसी, कानपुर,प्रयागराज में नाइट कर्फ़्यू, जानिए कब से होगी सख्ती

वाराणसी में भी लगा नाइट कर्फ्यू, स्कूल-कॉलेज के साथ ही कोचिंग संस्‍थान  रहेंगे बंद - after lucknow and kanpur night curfew imposed in varanasi too  school college and coaching to be closed

अब बेकाबू होते हालातों के बीच नाइट कर्फ्यू ने रफ्तार पकड़ ली है। पहले महाराष्ट्र फिर दिल्ली और अब यूपी में भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। दरअसल जिस हिसाब से कोरोना रफ्तार पकड़ रहा है उस हिसाब से लगता है कि आने वाले समय में कोरोना को लेकर सरकार और भी सख्त फैसले ले सकती है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए राजधानी लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा कर दी गई है। इस दौरान केवल आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही छूट होगी। लखनऊ में फिलहाल केवल नगर निगम क्षेत्र में नाइट कर्फ्यू लागू किया गया है। ग्रामीण इलाकों में नाइट कर्फ्यू लागू नहीं होगा।

लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में आठ से 16 अप्रैल तक रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया है। अगर कोरोना के मामले बढ़ते रहे तो ऐसा माना जा रहा है कि जल्द ही कुछ और शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान हो सकता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 500 से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस वाले जिलों के डीएम को नाइट कर्फ्यू पर फैसला लेने के लिए अधिकृत कर दिया है। फिलहाल वाराणसी और लखनऊ के बाद प्रयागराज में 500 से ज्यादा एक्टिव केस है।

रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने का यह फैसला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, मेरठ, गौतमबुद्धनगर, झांसी, बरेली, गाजियाबाद, आगरा, सहारनपुर तथा मुरादाबाद के जिलाधिकारियों से कोविड-19 के उपचार के सम्बन्ध में की जा रही कार्यवाही की जानकारी प्राप्त किए जाने के बाद लिया गया। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि इन जनपदों में विशेष सचिव स्तर के अधिकारी की आज ही तैनाती करते हुए कोविड-19 से बचाव व उपचार व्यवस्था का सतत अनुश्रवण सुनिश्चित किया जाए।

कोरोना