5 संकेतों से जाने शुगर से होने वाले रोगों के बारे में

5 संकेतों से जाने शुगर से होने वाले रोगों के बारे में

Spread to all

By Poonam Rajpoot

भारतीय ही नहीं वेस्टर्न खानपान में भी डेजर्ट और स्वीट्स का रोल बहुत ही खास होता है। छोटी-छोटी खुशियों का सेलिब्रेशन हम एक-दूसरे में मिठाइयां बांट कर ही करते हैं तो वहीं तीज-त्योहारों में भगवान को भोग लगाने से लेकर व्रत खोलने तक के में इनका रोल अहम होता है और सच कहें तो मिठाइयां खाकर एक अलग ही खुशी का अहसास भी होता है। लेकिन इसके साथ ही ये जानना भी बेहद जरूरी है कि बहुत ज्यादा चीनी के इस्तेमाल से बॉडी कई तरह की परेशानियों का भी शिकार होने लगती है। जिसपर कंट्रोल न किया जाए तो आगे चलकर ये गंभीर रूप ले सकती हैं। तो आज हम आपकों इस विड़ियो के ज़रिए बताएंगे उन शुगर पदार्थ के बारे में जिसके ज्यादा सेवन से हमारा शरीर मधु रोंग का शिकार हो सकता हैं । और उन 5 संकेतों के बारे में जिसे इगनोंर कर आप अपने शरीर को स्वस्थ रख सकेंगे ।

अगर आप खाने में बहुत ज्यादा शुगर का इस्तेमाल करते हैं तो इससे स्किन प्रॉब्लम्स के होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। लेकिन वहीं अगर आप इसे कम कर देते हैं तो ये समस्याएं खुद से ही धीरे-धीरे कम भी होने लगती हैं। बहुत ज्यादा चीनी की मात्रा हमारे स्किन के प्रोटीन कोलेजन को नुकसान पहुंचाते हैं। जिसके ज्यादा इस्तेमाल से हमारे शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ जाती हैं । जो कि शरीर में कई बीमारियां उत्पन्न करता हैं । कोलेजन हमारी त्वचा को जवान रखने और इसकी इलास्टिसिटी बनाए रखने का काम करता है। तो चेहरे के ग्लो और फ्रेशनेस को बनाए रखने के लिए रिफाइंड शुगर को अपनी डाइट से पूरी तरह हटा देना ही सही रहेगा। साथ ही दिल की बीमारियों में इजाफा होगा ।


जी हां, स्किन प्रॉब्लम्स और वजन बढ़ने के साथ ही ज्यादा शुगर के इस्तेमाल से दिल की बीमारियों में भी इजाफा होता है। चीनी का सेवन कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम पर असर डालता है। एक स्टडी के मुताबिक जो लोग दिन में 17 से 21% तक अपनी रोज की कैलरी चीनी और उससे बने पदार्थों से लेते हैं, उनके हार्ट अटैक आने की संभावना अन्य की तुलना में 38% ज्यादा हो जाती है।हम सभी जानते हैं की चीनी में किसी तरह का कोई फाइबर और प्रोटीन नहीं इस्तेमाल किया जाता हैं । तो इसका सीधा मतलब है कि जितना शुगर हम अपने भोजन में शामिल करेंगे उतनी ही कैलोरी बढ़ाएंगे। जो आपके खाद्य पदार्थो से एनर्जी को कम करता है और उसे फैट सेल्स में परिवर्तित करता है और जब शरीर में फैट की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो आपका शरीर आपके मष्तिष्क को भूख लगने का संकेत पहुंचाता है और फिर भूख लगने पर हम कुछ भी अनहेल्दी खाकर उसे मिटाने की कोशिश में लग जाते हैं जिससे हमारा वजन बढ़ने लगता है।


बहुत ज्यादा चीनी की मात्रा लेने से हमारा इम्यून सिस्टम कमजोर होने लगता है जिससे बॉडी में छोटे-मोटे वायरस से लड़ने की भी क्षमता धीरे-धीरे खत्म होती जाती है। ऐसे में सर्दी-जुकाम की समस्या भी आम हो जाती है। तो इस ओर भी ध्यान देने की खास जरूरत है।बहुत ज्यादा रिफाइंड चीनी का इस्तेमाल करने से आपका दिमाग धुंधला सा रहता है। ऐसा अक्सर खाना खाने के बाद होता है। एकदम से शुगर लेवल बढ़ जाता है और थोड़ी ही देर में गिर भी जाता है जिससे बाद दिमाग सही तरीके से काम नहीं कर पाता हैं । अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और अपनी डाइट से चीनी युक्त प्रोडक्ट्स को आउट करें।


Spread to all
Live Updates COVID-19 CASES